हर दिन सिर पर तेल लगाना क्या अच्छी बात है या बुरी आदत है? जानिए बालों में तेल कैसे और कब लगाना चाहिए?

क्या हर दिन सिर पर तेल लगाना सही है या गलत? – अभी पता लगाए

हर दिन सिर पर तेल लगाना क्या अच्छी बात है या बुरी आदत है? जानिए बालों में तेल कैसे और कब लगाना चाहिए? बालों में तेल लगाने का सही तरीका भी जान लें…

image source

बालों को स्वस्थ रखने और अच्छे दिखने के लिए नियमित रूप से तेल का प्रयोग करना अत्यधिक आवश्यक माना जाता है, यह तो हम सभी जानते ही हैं, लेकिन बहुत से लोग ऐसे है जो बालों में तेल लगाने का सही तरीका नहीं जानते हैं। लोग इन सवालों के जवाब भी अक्सर तलाश रहे हैं। आपको ये जानकर हैरानी होगी कि इंटरनेट पर बहुत से लोग केवल बालों में तेल कब और कैसे लगाते हैं और कब तक इसे बालों में लगाये रहना चाहिए, इन सब चीजो के बारे में ही खोज करते हैं।

बालों को स्वस्थ रखने के लिए तेल लगाना आवश्यक है।

यह सत्य है कि बालों को स्वस्थ रखने के लिए तेल बहुत ही महत्वपूर्ण है, यह बालों को पोषण देता है। विशेषज्ञों के अनुसार, बालों में नियमित रूप से तेल के उपयोग द्वारा बालों को आवश्यक पोषण मिलता है, इससे बाल समय से पहले नही झड़ते है, साथ ही खुजली और रूसी जैसे त्वचा से जुड़े संक्रमण भी नही होते हैं।

image source

इस तरह से देखे तो दूसरी और कई लोग ऐसे भी हैं जो अपने बालों में तेल लगाना जरुरी नहीं मानते हैं। उनकी राय में बालों में लगाया हुआ तेल उनकी सुंदरता और व्यक्तित्व को ख़राब करता है। इसके अलावा, तेल की वजह से बाल चिकने हो जाने की वजह से भी कई लोग तेल लगाने से बचते है, लेकिन इस बात से वह भी इनकार नहीं कर सकते है कि तेल बालों के लिए बहुत फायदेमंद है।

तेल आपके बालों को मजबूत बनाता है, साथ ही नियमित रूप से तेल लगाने से बालों से जुड़ी सभी समस्याएं लगभग खत्म हो सकती हैं। तो, आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि बालों में तेल लगाने से क्या क्या लाभ होते हैं, बालों में तेल लगाने का सही तरीका क्या है, बालों में कब, कैसे और कितना तेल लगाया जा सकता है।

बालों में तेल क्यों महत्वपूर्ण है

image source

लोग हमेशा यह सवाल पूछते रहते हैं कि क्या बालों में तेल लगाना चाहिए या नहीं, इसका जवाब हां में है। क्योंकि बालों को घना और मजबूत रखने के लिए बालों में तेल लगाना बहुत ही आवश्यक है। अगर नियमित रूप से तेल लगाकर बालों की मालिश की जाए, तो आपके बाल लंबे समय तक स्वस्थ रह सकते हैं। तेल लगाने से बालों का समय से पहले सफ़ेद होना रुक जाता है और यह लंबे समय तक जिवंत रहते हैं। इतना ही नहीं, बालों में तेल लगाने से बालों से जुड़ी हुई कई समस्याओं और संक्रमण से भी छुटकारा मिलता है। इसलिए, विशेषज्ञों का मानना है कि सप्ताह में दो से तीन बार बालों पर तेल लगाना ही चाहिए।

बालों में तेल कब लगाना चाहिए?

बालों में तेल कब लगाना है, यह जानना सभी के लिए जरुरी है। हालाँकि, कई लोग उन्हें जब भी अनुकूल लगता है तब वे अपने बालों में तेल लगाते हैं, लेकिन उनके बालों में तेल लगाने का यह सही समय है या नहीं उन्हें खुद को यह पता नहीं होता है। तो आज हम आपको बताते है कि बालों में तेल मालिश करने का सही समय क्या होना चाहिए?

image source

बालो में तेल लगाने के बाद नहाना चाहिए, ताकि चेहरे पर और गर्दन के पीछे से चिकनाई तुरंत हट जाए। इसके अलावा, कई लोगों को ऐसी आदत भी होती है की कुछ समय के लिए तेल डालकर सिर को धो लेते है। इस प्रकार, जब भी वह बाहर निकलते है तो उनके बालों में तेल नहीं रहता है। इसलिए नहाने से पहले अपने बालों में तेल की मालिश करने को अपनी एक आदत बना लें। तेल लगाने के बाद, तेल को कम से कम 15 मिनट तक बालों में रखना ज़रूरी है जिससे आपके बाल तेल को अच्छी तरह से अवशोषित कर सकें।

ध्यान दें कि तेल 15 मिनट तक सिर में ही रहना चाहिए। तेल को अधिक समय जैसे की एक घंटा या एक दिन तक रखना बहुत अच्छा है, लेकिन पंद्रह मिनट से कम समय के लिए तेल डालकर तुरंत कभी भी नही धोना चाहिए। बालों को थोड़ा चिकना रखने के बाद पानी से भी धोया जा सकता है। अच्छी क्वोलिटी के शैम्पू का इस्तेमाल करने के बाद बालों को पानी से धोने के बाद बालों पर लाइट कंडीशनर का इस्तेमाल करना चाहिए।

image source

अब, जान लें कि तेल लगाने के बाद बालों को धोना और बालों में कंडीशनर लगाना पूरी तरह से एक अच्छी प्रक्रिया है। ऐसा करने से आपके बाल अच्छी तरह से नमीयुक्त रहेंगे। अगर आप चाहें तो बालों को धोने से पहले तेल की जगह कंडीशनर लगाने के बाद भी तेल लगाया जा सकता हैं। तेल लगाने के बाद बालों को कम से कम 15 मिनट के लिए शावर कैप से ढक लें और फिर से बालों पर अच्छी क्वोलिटी का कंडीशनर लगाएं। यह आपके बालों को पोषण और नमी दोनों ही प्रदान करेगा। संक्षेप में, बाल चिकने और मुलायम रहे यह सुनिश्चित करना अधिक महत्वपूर्ण है। तेल लगाने के बाद अधिक शैम्पू का प्रयोग कर अपने बालों को सुखाने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। ऐसा करने से बालों को अधिक नुकसान होता है।

बालों में तेल लगाने का सही तरीका, जानिए सर पर तेल लगाने से पहले तेल के साथ कंघी करना भी है महत्वपूर्ण…

image source

आइए जानते हैं कि बालों में तेल कैसे लगाएं। बालों में तेल लगाने से पहले बालों को अच्छी क्वालिटी और गोल दांते वाली कंघी (जो बिल्कुल भी शार्प नहीं है) से कंघी करनी चाहिए। इसके द्वारा बालों से सारे गुच्छ (उलझने) दूर करनी चाहिए। बालों को अच्छी तरह से कंघी करनी चाहिए, क्योकि इसका भी अलग ही महत्व होता है।

ऐसा इसलिए है क्योंकि इससे बालो के मूल से जुडी कोशिकाओ के छिद्र खुल जाते है और स्काल्प में रहे प्राकृतिक तेल को वह उत्तेजित करता है। जो हमारे सर की खोपड़ी में उपर वाली त्वचा पर आ जाता हे, जब कंघी के साथ कोम्बिंग करते हैं, तो पूरा तेल ऊपर से नीचे तक फैल जाता है और बाल उलझे हुए नहीं लगते। जब आप अपने बालों को धोते हैं तो सप्ताह में एक बार शैम्पू या साबुन से अपनी दैनिक इस्तेमाल की जाने वाली कंघी को भी साफ करना चाहिए। यदि आप मेली कंघी का उपयोग करते हैं तो यह आपके बालों के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।

image source

तेल से मालिश करना आवश्यक है।

बालों को अच्छे से बनाने के बाद आप उसमे तेल लगा सकते है। उसे बाउल या कटोरी में निकालकर थोडा गर्म कर ले। ऊँगली से छू शके उतना ही गर्म कर लें। ज्यादा गर्म न करे। अब बिचवाली दो उंगलियो की मदद से बालो को तेल से मालिस करे और सर की त्वचा को उपर से मूल को तेल से मालिश करे।

स्काल्प (खोपरी) पर मौजूद त्वचा में पहले से ही प्राकृतिक तेल होता हैं, इसलिए स्काल्प की त्वचा पर बहुत अधिक तेल लगाने की आवश्यकता नहीं होती है, खोपड़ी को तेल से मालिश करने के बाद, नीचे के बालों की मालिश करना शुरू करें। अब बालों के छोटे भाग करे और स्काल्प की त्वचा पर हल्के हाथो से तेल लगाएं। बालों के आखरी सिरे तक तेल लगाएं। जब तेल पूरे सर की त्वचा पर लगाया जाता है, तो यह सुनिश्चित करें कि तेल बालों के सिरों तक पहुँच गया है और बालों को फिर से कंघी से बना ले और उलझने दूर कर बांध लें।

तेल डालकर गर्म तौलिये वाला उपचार

image source

बालों को तेल से अच्छी तरह से मालिश करने के बाद, इसे मजबूत और स्वस्थ बनाने के लिए बालो को भाप (गर्म पानी की) देनी चाहिए। बालों को भाप देने के लिए, एक बर्तन में पानी गर्म करें और पानी उबालने के बाद उसमें एक छोटा तौलिया डालें। ध्यान रखें कि पानी बहुत अधिक गर्म नहीं होना चाहिए, बल्कि थोड़ा गुनगुना होना चाहिए। गुनगुने पानी में तौलिया डुबोने के बाद, तौलिये को बाहर निकालें और इसे अच्छी तरह से निचोड़ें, सावधान रहें कि इसमें से पानी नही टपकना चाहिए लेकिन तौलिया गर्म महसूस होना चाहिए और इसे बालों पर बांध ले।

गर्म तौलिया ठंडा न हो जाये तब तक पांच से दस मिनट तक उसे बालों पर बांध कर रखे। यह प्रक्रिया सर में तेल का अधिक अच्छि तरह से अवशोषण करता है उसके लिए आपके बालो के उपर की त्वचा को ही पोषण देगा इतना ही नहीं, बल्कि स्काल्प पर त्वचा के रक्त परिसंचरण भी बढ़ाएगी। खोपड़ी के प्रत्येक छिद्र को पोषण मिलने से बाल अधिक स्वस्थ रहेंगे।

image source

फिर तौलिया ठंडा होने पर हटा दें और आधे घंटे के बाद बालों को शैम्पू कर लें। ध्यान रखें कि तेल कम से कम आधे घंटे तक आपके बालों में रहना चाहिए, तभी आपके बालों को उचित पोषण मिलेगा और वे मजबूत बनेंगे। यदि आप इस पूरी प्रक्रिया को सप्ताह में दो या तीन बार अपने बालों पर आजमाते हैं, तो आप के बालो से लगती समस्या जैसे की रूसी, बालों के झड़ने या पतले होने जैसी समस्याओं से दूर कर सकेंगे। सर्दियो में यह प्रक्रिया विशेष रूप से की जानी चाहिए ताकि आपके बाल सूखे और बरछट न हों।